अर्जुन सिंह ने राज्यपाल को लिखा पत्र, बोले- ममता सरकार मेरी हत्या करवाना चाहती है

फोटो, साभार : गूगल

बैरकपुर : राज्य में डारी कोरोना के कहर के बीच सियासी उबाल भी बढ़ता जा ही है। भाजपा शुरू से ही कोरोना को लेकर राज्य सरकार पर हमलावर रही है। इस बीच उत्तर 24 परगना जिले के बैरकपुर से भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने ममता सरकार पर हत्या कराने की कोशिश का सनसनीखेज आरोप लगाया है। इस बारे में सांसद अर्जुन ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को पत्र लिखकर सूचित किया।

राज्यपाल जगदीप धनखड़ को लिखे पत्र में अर्जुन सिंह ने आरोप लगाया है कि सीएम ममता बनर्जी के इशारे पर ज्वाइंट सीपी अजय ठाकुर उनकी हत्या करना चाहते हैं। इस पुलिस अधिकारी से सांसद और उनके परिवार को खतरा है। सांसद ने आरोप लगाया कि पुलिस अफसर उनके दफ्तर में अपनी टीम के साथ पहुंचे और सब तहस-नहस कर दिया।

इतना ही नहीं सिंह ने आरोप लगाया कि 14 मई की शाम करीब साढ़े सात बजे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश पर पुलिस अधिकारी ठाकुर अपने 35 सहयोगियों के साथ उनके कार्यालय में पहुंचे और संदेहास्पद रूप से उसके आसपास घूमने लगे। जब उनके अंगरक्षकों ने उन लोगों की उपस्थिति के बारे में पूछा, तो उन्होंने कहा कि वह नोटिस देने आए हैं।

लेकिन जब नोटिस मांगा गया, तो तत्काल उपलब्ध कराने में असमर्थ रहे। बाद में उनके सामने ही नोटिस लिखी गई। अर्जुन सिंह ने कहा है कि ठाकुर के साथ जो 35 सदस्य आए थें उनमें दो बदमाश भी थे, जो सफेद पोशाक में थे। उन्होंने कहा कि मेरे खिलाफ अभी तक पुलिस ने 75 झूठे मामले दर्ज कर लिये हैं। उन्होंने राज्यपाल से अनुरोध किया कि वे अजय ठाकुर के खिलाफ जांच के आदेश दें।

उधर इस मामले की खबरे सामने आने के बाद बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट करते हुए कहा कि पुलिस है या सुपारी डॉन? पश्चिम बंगाल पुलिस भाजपा के एक सांसद की जान की दुश्मन बनी हुई है। पिछले एक साल से कई तरह के हथकंडे अपनाकर बैरकपुर के ज्वाइंट सीपी अजय ठाकुर उनके पीछे पड़े हैं। उन्होंने कहा कि यदि हमारे सांसद के साथ कुछ भी गलत होता है, तो इसके जिम्मेदार अजय ठाकुर होंगे! सरकार को इसके परिणाम भी भुगतने होंगे।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 2 =