अर्जुन सिंह ने जयंत सिंह को मदन मित्रा का करीबी बताया

कोलकाता (न्यूज़ एशिया): कमरहट्टी नगरपालिका के वार्ड-11 में अरियादह स्थित केदारनाथ सिंह रोड में मां और बेटे की सामूहिक पिटाई करने के मामले में मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। अरियादह केदारनाथ सिंह रोड, वार्ड नंबर 11, कमरहाटी नगर पालिका निवासी माँ और बेटा की  पिटाई की गई थीं,  गंभीर रूप से घायल मां-बेटे का इलाज बेलघरिया के एक निजी अस्पताल में चल रहा है।

पुलिस ने इस घटना में आठ लोगों को गिरफ्तार किया है लेकिन मुख्य आरोपी जयंत सिंह फरार था. कमरहाटी का कुख्यात अपराधी जयंत सिंह आखिरकार पकड़ा गया। पुलिस के मुताबिक, गुरुवार सुबह जयंत सिंह को डनलप के पास बीटी रोड से पकड़ा गया।

हालांकि बैरकपुर के पूर्व सांसद और बीजेपी नेता अर्जुन सिंह का दावा है कि जयंत ने कोर्ट में सरेंडर किया है। जयंत मदन मित्रा के बेहद करीबी हैं। कमरहट्टी विकास समिति के नाम पर जयंत पैसा वसूलता है, अगर कोई पैसा नहीं देता तो उसे पीटा जाता है।

बता दें कि जयंत सिंह और उसके गिरोह ने रविवार की रात कमरहट्टी नगरपालिका के वार्ड-11 में अरियादह स्थित केदारनाथ सिंह रोड में मां और बेटे की सामूहिक पिटाई की थी। बेलघरिया थाने की पुलिस मामले की जांच कर रही है। जानकारी के मुताबिक, मंगलवार को एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया, जिसमें कई लोग मां-बेटे की पिटाई करते दिख रहे हैं।

Arjun Singh described Jayant Singh as close to Madan Mitra

घायल युवक का नाम सायनदीप पांजा है। रविवार को कॉलेज छात्र सायनदीप पर बदमाश जयंत सिंह और उसके समर्थकों ने अचानक हमला कर दिया। उसे बचाने गयी उसकी मां को भी पीटा गया। उधर, घटना से गुस्साए स्थानीय लोगों ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर बेलघरिया थाने के सामने प्रदर्शन किया था।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे कोलकाता हिन्दी न्यूज चैनल पेज को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। एक्स (ट्विटर) पर @hindi_kolkata नाम से सर्च करफॉलो करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *