सैन फ्रांसिस्को। 2021 की शुरुआत के बाद पहली बार एप्पल का मार्केट कैप ट्रेडिंग के दौरान 2 ट्रिलियन डॉलर से नीचे गिर गया, यानी आईफोन बनाने वाली इस कंपनी का मार्केट कैप तीन ट्रिलियन डॉलर से अधिक था जो अब दो ट्रिलियन डॉलर से भी कम रह गया है। गिरावट का मतलब है कि सिर्फ एक साल में टेक जायंट ने बाजार पूंजीकरण में 1 ट्रिलियन डॉलर खो दिया। सीएनएन के अनुसार, कई अन्य तकनीकी कंपनियों की तरह, एप्पल भी सप्लाई चैन के मुद्दों से प्रभावित हुआ है। कोविड संक्रमण की ताजा लहर के कारण चीन में इसका निर्माण प्रभावित हुआ है।

रिपोर्ट के अनुसार, 3 जनवरी को, एप्पल के शेयरों में लगभग 4 प्रतिशत की गिरावट आई थी, एक रिपोर्ट में उसके उत्पादों के लिए उपभोक्ता मांग के बारे में चिंता जताई गई थी। निक्केई एशिया ने सोमवार को बताया कि एप्पल ने हाल ही में कई आपूर्तिकर्ताओं को पहली तिमाही के लिए अपने कुछ सबसे लोकप्रिय उपकरणों के लिए कम पुर्जे बनाने के लिए अधिसूचित किया, जिसमें एयरपॉड्स, ऐप्पल वॉच और मैकबुक शामिल हैं। ऐसी खबरों ने एपल के उत्पादों की मांग को लेकर भी चिंता जताई है।

हालांकि, बाजार पूंजीकरण में भारी कमी का सामना करने वाली एप्पल एकमात्र कंपनी नहीं है। एप्पल के बाजार मूल्य में काफी गिरावट आई है, जबकि अन्य प्रमुख प्रौद्योगिकी कंपनियों ने भी तेज प्रतिशत गिरावट का अनुभव किया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि एमेजॉन और फेसबुक की मूल कंपनी मेटा के शेयरों में पिछले एक साल में क्रमश: करीब 50 फीसदी और 63 फीसदी की गिरावट आई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इसकी तुलना में, इसी समय अवधि में एप्पल लगभग 31 प्रतिशत नीचे था।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven + one =