कोलकाता। टीएमसी (TMC) के दिग्गज नेता और पश्चिम बंगाल सरकार में मंत्री रहे पार्थ चटर्जी के बाद अब पार्टी के एक जिलाध्यक्ष को सीबीआई ने गिरफ्तार किया है। सीबीआई ने बीरभूम के टीएमसी के जिलाध्यक्ष अनुब्रत मंडल को 10 समन भेजे थे, लेकिन वह सीबीआई के सामने पेश नहीं हुए, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। 10 समन नजरअंदाज करने के बाद सीबीआई ने कोर्ट का रुख किया था। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सामने नित नई मुश्किलें खड़ी हो रही हैं।

पहले उनकी पार्टी के दिग्गज नेता पार्थ चटर्जी भ्रष्टाचार के मामले में घिरे और अब टीएमसी के बीरभूमि जिले के अध्यक्ष अनुब्रत मंडल को सीबीआई ने पशु तस्करी मामले में गिरफ्तार कर लिया है। गौरतलब है कि अनुब्रत मंडल को 2020 के पशु तस्करी केस में सीबीआई ने गिरफ्तार किया है। उन्हें बीरभूमि स्थित उनके घर से सीबीआई ने पकड़ा है। इससे पहले मंडल से दो बार सीबीआई पूछताछ कर चुकी है। उनका नाम इस केस में सबसे पहले 2020 में आया था।

जब सीबीआई ने पशु तस्करी घोटाले में एफआईआर दर्ज की थी। सीबीआई के अनुसार 2015-2017 के बीच 20 हजार से अधिक पशुओं को बीएसएफ ने सीज किया था, जिन्हें सीमा पार स्मगल किया जा रहा था। हाल के कुछ दिनों में सीबीआई ने इस मामले में अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी की थी। मंडल के बॉडीगार्ड सैगल हुसैन को भी सीबीआई ने गिरफ्तार किया था।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × 5 =