खड़गपुर : बच्चों के पठन – पाठन व मानसिक विकास के लिए अनिवार्य है अनुकूल परिवेश

तारकेश कुमार ओझा, खड़गपुर। अनुकूल परिवेश के अभाव में उच्चकोटि की प्रतिभाएं भी कुम्हला जाती है। बच्चों के पठन-पाठन और मानसिक विकास के लिए अनुकूल परिवेश नितांत आवश्यक है। स्थानीय सामाजिक संस्था “गोपाली यूथ वेलफेयर सोसाइटी” के तत्वावधान में जागृति विद्या मंदिर छात्रावास के उद्घाटन समारोह में यह बात वक्ताओं ने कही। इस अवसर पर उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों में विधायक दीनेन राय, परेश मुर्मु, खड़गपुर के एसडीओ अजमल हुसैन, पीडब्लयूडी व परिवहन विभाग के कर्माध्यक्ष नव कुमार दास,

गोपाली ग्राम पंचायत प्रधान सुष्मिता मुर्मु, प्रो. डी.के. माईती, प्रो. दामोदर माईती, प्रो. भास्कर भौमिक, प्रो. एच.आर. तिवारी, प्रो. किंशुक भट्टाचार्य, गोपाली यूथ वेलफेयर सोसाइटी गर्वनिंग बॉडी के अध्यक्ष मृणाल कांति भंज, उपाध्यक्ष तनिष्का अग्रवाल तथा महासचिव डी. प्रद्युन आदि शामिल रहे।

करीब 25 लाख रुपये की लागत से निर्मित छात्रावास के औचित्य पर प्रकाश डालते हुए वक्ताओं ने कहा कि बच्चों के पठन-पाठन के क्रम में स्वयंसेवकों ने महसूस किया कि गरीब व पिछड़े पृष्ठभूमि के बच्चों को घर में पढ़ाई का अनुकूल परिवेश नहीं मिल पाता। इससे मेधावी होते हुए भी वे पिछड़ जाते हैं, इसीलिए छात्रावास की संकल्पना को साकार किया गया। यहां करीब सौ बच्चों के नि:शुल्क रहने की व्यवस्था की गई है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four + six =