नेब्रास्का सिटी (अमेरिका)। अमेरिका की रिपब्लिकन पार्टी से राष्ट्रपति पद के तीन दावेदारों ने अफगानिस्तान में युद्ध समाप्त करने के तरीके को लेकर रविवार को राष्ट्रपति जो बाइडन की कड़ी आलोचना की। उन्होंने कहा कि जिस तरह बाइडन प्रशासन ने सेना की वापसी की प्रक्रिया को अंजाम दिया वह खुद को कमजोर और विरोधियों का उत्साह बढ़ाने वाला था।

फ्लोरिडा के गवर्नर रॉन डिसेंटिस, टेक्सास के सीनेटर टेड क्रूज और पूर्व उपराष्ट्रपति माइक पेंस, नेब्रास्का सिटी में गवर्नर पीट रिकेट्स द्वारा आयोजित चंदा एकत्र करने के एक वार्षिक कार्यक्रम में शामिल हुए। रिपब्लिकन पार्टी से 2024 चुनाव के तीन दावेदारों ने नेब्रास्का में एक हजार से अधिक समर्थकों को संबोधित किया।

तीनों नेताओं ने अफगानिस्तान में सेवा देने वाले अमेरिकी सेना के जवानों की प्रशंसा की लेकिन वह राजनीतिक एकता प्रदर्शित नहीं कर पाए जो 9/11 की घटना के बाद देखने को मिली थी। डिसेंटिस ने कहा, “चीन, ईरान, उत्तर कोरिया और मास्को में जो कुछ भी होगा वे उसे देख रहे हैं। ये देश डोनाल्ड ट्रंप से डरते थे। वे जो बाइडन से नहीं डरते, न ही उनकी इज्जत करते हैं।”

क्रूज ने अफगानिस्तान पर तालिबान के पुनः कब्जे पर बाइडन प्रशासन की प्रतिक्रिया को एक ‘आपदा’ करार दिया। उन्होंने कहा, “आज अमेरिका का प्रत्येक दुश्मन ओवल कार्यालय में बैठे व्यक्ति की कमजोरी जानता है और उनमें से सभी को पता चल गया है कि राष्ट्रपति कमजोर तथा अप्रभावी हैं।” पूर्व उपराष्ट्रपति पेंस ने कहा, “जो अराजकता फैली, और नेब्रास्का के एक सैनिक समेत 13 सैनिकों की क्षति से मुझे बहुत पीड़ा हुई क्योंकि यह कभी नहीं होना चाहिए था।”

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + seven =