ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में आग से 3 अरब जानवर हुए थे प्रभावित

मेलबर्न : अमेजन के जंगलों में लगी आग के बाद ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में भी आग लगने की घटना हुई थी। इन दोनों घने जंगलों में आग लगने के बाद ये कहा जा रहा था कि इससे कई अरब जंगली जानवरों की या तो मृत्यु हो गई या वो उस जगह से भागकर कहीं और पहुंच गए। ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में साल 2019-20 की आग पर हुए एक शोध का कहना है कि इस भयानक आपदा के कारण करीब तीन अरब जानवर या तो मारे गए या फिर विस्थापित हो गए।

ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी इस आग को आधुनिक इतिहास की सबसे खराब आपदाओं में से एक कहा जा रहा है। शोध में शामिल ऑस्ट्रेलिया के कई विश्वविद्यालयों के वैज्ञानिकों का कहना है कि आग के कारण 14.4 करोड़ स्तनधारी, 2.46 अरब सरीसृप, 18 करोड़ पक्षी और 5.1 करोड़ मेंढक प्रभावित हुए। हालांकि शोध में यह जानकारी नहीं हासिल हो सकी कि इससे कितने जानवरों की जलने से मौत हुई होगी।

शोध के एक लेखक क्रिस डिकमैन के मुताबिक आग से बचने वाले जानवरों की संभावनाएं बहुत अधिक नहीं थीं ऐसा भोजन, शरण और शिकारियों से सुरक्षा की कमी के कारण हो सकता है। ऑस्ट्रेलिया के जंगल में 2019 के मध्य में लगी आग के कारण 1,15,000 वर्ग किलोमीटर के जंगल और झाड़ जल गए। इस आग में 30 लोगों की मौत हो गई थी और हजारों मकान जलकर राख हो गए थे। ऑस्ट्रेलिया के आधुनिक इतिहास में यह जंगल की आग सबसे लंबे दौर तक चलने वाली आग थी, वैज्ञानिकों ने जलवायु परिवर्तन के प्रभावों को इस संकट के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen − 3 =