पत्रकारिता दिवस पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले पत्रकारों को अपवा के पदाधिकारियों ने किये सम्मानित
सावन साहिल ब्यूरो

प्रतापगढ़। भारत के संविधान में दी गई लोकतांत्रिक व्यवस्था के अंतर्गत चतुर्थ स्तंभ की महत्वपूर्ण भूमिका पत्रकारिता का अस्तित्व कायम रखने के लिए पत्रकार बंधु, पत्रकारिता को मिशन मानकर अपने दायित्व का निर्वहन करें तो निश्चित रूप से लोकतंत्र के चैथे स्तंभ की सार्थक भूमिका होगी। यह बाते अखण्ड पत्रकार वेलफेयर एसोसिएशन भारत (पंजी.) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शील गहलौत ने प्रतापगढ राजापाल टंकी चैराहे पर आयोजति पत्रकारिता दिवस में बतौत मुख्य अतिथि कही। उन्होने कहा कि तमाम पत्रकार बंधु अपनी मर्यादा को कायम रखते हुए पत्रकारिता को एक मिशन बनाएं और सत्य को सत्य लिखें व झूठ को झूठ। निर्भीकता और निडर होकर कलम चलाएं, देश के तथाकथित लुटेरों से दूर रहकर अपनी कलम की पैनी धार से गरीबों का कल्याण करें और उन्हें न्याय दिलाने के लिए अपने मीडिया के माध्यम से विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका का ध्यान आकर्षित करें। वही जनविरोधी कारनामों को समाज के सामने उजाकर इन्हें बेनकाब करें।

प्रदेश महामंत्री ओपी गुप्ता ने कहा कि पत्रकारिता एक निष्ठा पूर्ण कार्य है और पत्रकार एक दायित्वशील व्यक्ति होता है। यदि हमें स्वच्छ पत्रकारिता को विकसित करना है तो पत्रकारिता के क्षेत्र में हुई अनाधिकृत घुसपैठ को समाप्त करना होगा। वरिष्ठ पत्रकार जेएन वरनवाल ने कहा कि पत्रकारिता के क्षेत्र में जुड़े पत्रकार साथियों को अतीत से शिक्षा लेकर वर्तमान को समझते हुए भविष्य का दिशा निर्देशन भी करना पड़ेगा तभी हम सच्चे मायने में पत्रकारिता दिवस मना पाएंगे। 30 मई को पंडित जुगल किशोर जिनका जन्म कानपुर में हुआ था सबसे पहले उद्दंड मार्तंड हिंदी समाचार पत्र निकाला। इसीलिए हम 30 मई को पत्रकारिता दिवस मनाते हैं।

वरिष्ठ पत्रकार मोहम्मद हई खान ने कहा कि पत्रकारिता जगत में पत्रकारों को हर पल अपने जान माल का खतरा बना रहता है किंतु कलम के रखवाले अपने कलम की रोशनी से पूरे पत्रकारिता जगत को रोशन करते रहते हैं। अपवा के प्रदेश मीडिया प्रभारी वीके सिंह ने कहा कि पत्रकारों को अपनी मुट्ठी में कैद करने की चालें देश के गद्दार, भ्रष्टाचारी, अवैध धंधा करने वाले कलम के हुनर को दबाने की कोशिश करने का प्रयास करते रहते हैं लेकिन इन सब की बिना परवाह किए हुए समस्त चुनौतियों को सहर्ष स्वीकार कर देश के चैथे स्तंभ को मजबूत बनाए रखने के लिए सभी स्वार्थों को त्याग कर पत्रकार अपनी कलम चलाकर भ्रष्टाचारियों के चेहरे को बेनकाब करते रहें। अध्यक्षता करते हुये वरिष्ठ पत्रकार प्रदीप पाण्डेय ने कहा कि पत्रकारिता एक मिशन है और इस मिशन को बगैर किसी लालच के आगे बढाते हुये समाज के दबे कुचलों को न्याय दिलाना ही वास्तव रूप में सच्ची पत्रकारिता होगी। इस दौरान दिनेश बहादुर सिंह चैहान, शालिकराम मौर्य, राकेश बहादुर सिंह, विजय बहादुर सिंह सोलंकी, वृजेन्द्र सिंह एडवोकेट, शिवशंकर गौड़, बीके सिंह, जेएन वरनवाल, प्रदीप कुमार पाण्डेय, अरविन्द सिंह आदि तमाम लोग मौजूद रहे। IMG-20220530-WA0026

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 5 =